Bawaseer ka ilaj kya hai | बवासीर का 5 घरेलू इलाज और लक्षण

आपके दैनिक जीवन पर Bawaseer का असर पड़ सकता है । आइये देख़ते है Bawaseer ka ilaj kya hai। मल के दौरान दर्द ,खून बहना, आपके गुदा क्षेत्र में खुजली और दर्द, यह सब कारणो से जब भी आप शौचालय पर जाते हैं असहज महसूस करते हैं ।

रक्तस्राव के कुछ कारणों है मल के दौरान ज़ोरदार दबाव देना जिस कारण शौचालय पर लंबे समय लगना , गर्भावस्था, आहार में फाइबर की कमी और आपकी उम्र जिसमे माना जाता है की 50 साल के उम्र तक, Bawaseer बढ़ जाता है ।

bawasir ka ilaj ke tarike

अधिकांश मामलों में, हमें Bawaseer को दूर करने के लिए जटिल चिकित्सा प्रक्रियाओं जैसे सर्जरी या इंजेक्शन के माध्यम को अपनाने की ज़रूरत नहीं है।इसका स्वाभाविक रूप से आसान युक्तियों को लागू करके ilaj किया जा सकता है । जो आपके लिए सबसे उपयुक्त है उसे चुनें और लागू करें ।

सेंध नमक

सेंध नमक Bawaseer के लिए एक अद्भुत ilaj हो सकता है! स्नान का पानी तैयार करें और छः इंच गर्म पानी में एक कप सेंध नमक मिलाये । अपने हाथ से पानीको अच्छी तरह मिला ले ताकि नमक तेजी से घुल जाये । स्नान के दौरान, प्रभावित क्षेत्र को कम से कम 20 मिनट तक डुबोके रखे । नमक मिलाया हुआ गर्म पानी से स्नान के बाद, एक साफ मुलायम तौलिया का उपयोग करके हल्के और सादे गर्म पानी के साथ प्रभावित क्षेत्र को धो लें और सूखा ले । लक्षणों में सुधार होने तक प्रति दिन 2-3 बार गर्म पानी और सेंध नमक से स्नान लें।

उच्च फाइबर आहार

High fiber diet

ज्यादा से ज्यादा पानी पिए और पूरे अनाज (भूरे रंग के चावल, दलिया), ताजा कार्बनिक फल (केले, सेब) और सब्जियां सहित एक फाइबर समृद्ध आहार ले । फैटी फ़ूड , चीनी और लाल मांस खाने से बचें ।

कोल्ड कंप्रेस Bawaseer ka ilaj के लये उपजोगी है

सूजन को 15 मिनट के लिए दूर करने के लिए गुदा पर बर्फ पैक या कोल्ड कंप्रेस लगाए । बड़े, दर्दनाक Bawaseer के लिए, यह एक अत्यंत प्रभावी ilaj हो सकता है। हमेशा एक कपड़ा या पेपर टॉवल के अंदर बर्फ को लपेटे , और त्वचा पर सीधे सीधे जमे हुए बर्फ न लगाए।

Also Read: Safed daag ka ilaj kya hai in hindi 

आलमंड का तेल

आलमंड का तेल Bawaseer ka ilaj hai

कुछ आलमंड का तेल ले और इसे गुर्दे क्षेत्र के अंदर एक साफ उंगली से लगाए ताकि रोगाणुओं को तुरंत मार दे ,और त्वचा के सूजन को आराम दे । इस उपाय का प्रयोग बार बार करें ।

Bawaseer ka ilaj गर्म स्नान करे

गर्म स्नान

एक गमला में गरम पानी भरे , और अपनी पीठ पर लेटे, फिर इस क्षेत्र को सूखा लें ।
सिर्फ 15 मिनट के लिए लेटने से , दर्द, खुजली और जलन से राहत मिल सकता है । इसे दिन में दो बार करे । यह उपाय गुदा को भी साफ करता है और बैक्टीरिया को कम कर देता है ।

Image License : pexels.com, pixabay.com and commons.wikimedia.org under Creative Commons License

About Dr. Devansh Singh

Dr. Devansh Singh
हेलो फ्रेंड, वेलकम अप्प को मेरे हेल्थ ब्लॉग "Sahi upchar' में । इस वेबसाइट पर हम कुछ हेल्थ सम्पर्क टॉपिक पर बात करेंगे जैसे ब्यूटी,फिटनेस,स्वस्थ से जुड़ा हुआ कई घरेलू नुस्खे के बारे में । मैं खुद इस ब्लॉग के प्रतिष्ठता हु । प्लीज मेरे ब्लॉग को पढ़िए और अपने स्वस्थ सम्बंधित हर जानकारी पाइये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

garbhavastha me kya khana chahiye

गर्भावस्था के दौरान क्या खाना चाहिए: Pregnancy Diet in Hindi

Pregnancy Me Kya Khana Chahiye: गर्भावस्था का समय हर महिला के लिए बहुत ख़ास होता ...

indian diabetes diet chart hindi

डायबिटीज रोगियों के लिए 7 दिनों का भारतीय डाइट चार्ट

Diabetes Diet Chart Hindi: मधुमेह से पीड़ित ब्यक्ति के लिए अपने खान पान को नियंत्रण ...