घरेलू उपचार

घुटने और Jodo Ka Dard का एक मात्र इलाज | Joint Pain Treatment

Jodo Ka Dard Ka Ilaj Joint Pain Treatment in Hindi
Dr. Oishi Roy
Written by Dr. Oishi Roy

आज के ज़माने में jodo ka dard एक आम बीमारी है । Joint Pain महसूस करने वाले ब्यक्ति को भुखार , वजन का घटना , और anemia जैसी बिमारिओं का भी सामना करना पड़ता है । जो की आपके lungs, heart, या kidney को नुक्सान पहुंचा सकता है ।

तो कितना जल्दी आप इन समस्याओं से बाहार आ सकते है ? अगर आप डॉक्टर के दिए गए दवाई खाके परेशां हो चुके है , और आप surgery भी नहीं करवाना चाहते, तो हम आपके लिए कुछ घरेलु नुस्के लाये है जो आपको ghutno ka dard से छुटकारा दे सकता है ।

Jodo Ka Dard Ka Ilaj Joint Pain Treatment in Hindi

इन नुसको से आपको बहुत जल्द घुटनों के दर्द से छुटकारा मिलेगा । ये उपकरण बहुत आसानी से उपलब्द है । पर इन्हें इस्तेमाल करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर की सलाह जरूर ले , ताकि आपको यकीं हो जाये की यह नुस्के आपके लिए कितने फायदेमं है ।

तो ये रहा आपके लिए आसानी से मिलने वाले jodo ke dard ke nuskhe

दालचीनी से ghutno ke dard ka ilaj –

दालचीनी में कुछ ऐसे दर्द निबारक उपादान मौजूद होती है तो आपके jodo ka dard को कम कर सकते है । यह सर्दी के कारन आपके शारीर में होने वाले दर्द को भी कम करता है ।

आपको दालचीनी कुछ ज्यादा मात्रा में लेना पड़ेगा जोड़ो के दर्द से छुटकारा पाने के लिए । पर इतना भी ज्यादा नहीं जो आपके शारीर को नुक्सान करे ।

गर्ववती महिलाओं को इसका इस्तेमाल नहीं करना है । तो इसका इस्तेमाल करके आप ghutno ka dard से आराम पा सकते है ।

काली मिर्च ( गोलकी ) से dard ka ilaj –

काली मिर्च को हमेशा से ही दर्द निबारक मन जाता है । काली मिर्च में मौजूद capsaicin नाम के उपादान ना सिर्फ जोड़ो के dard ka ilaj करता है , बल्कि हर तरह की दर्द से राहत देता है ।

Black pepper

capsaicin नाम के उपादान बाजार में मिलने वाले कही सारे cream और lotion में पाए जाते है । तो इन्हें लगाने से आपको jodo ka dard से राहत मिल सकता है ।

मगर याद रखे यह कोई permanent इलाज नहीं है , और आपको इसका इस्तेमाल बार बार करना पड़ेगा दर्द से छुटकारा पाने के लिए ।

ग्रीन tea से jodo ka dard –

ग्रीन tea में मौजूद antioxidants ghutno ka dard को कम करने में मदद करते है । यह आपके immune system को भी ठीक रखते है , ताकि आप कम बीमार पड़े ।

हालाँकि इसका असर हर ब्यक्ति के लिए अलग है क्यूंकि हर ब्यक्ति के दर्द की गहराई अलग होती है । पर इसका कोई side effect नही होती । तो आप निर्भय हो के ग्रीन tea पी सकते है ।

हल्दी का इस्तेमाल से dard ka ilaj –

हल्दी को हमेशा से दर्द निबारक माना जाता है । हल्दी में मौजूद उपादान आपको कही दर्द से राहत देती है । और हम सब इसका इस्तेमाल अपने खाने भी करते है ।

लेकिन हम यहाँ कच्चे हल्दी से बने दवाई या तेल की बात ही कर रहे है । जिसका इस्तेमाल से आपको ghutno ka dard से राहत मिल सकता है ।

कच्चे हल्दी से बने दवाई या तेल में मिलावटी chemicals मौजूद नहीं होती जो बहुत अच्छे से काम करते है । और इसमें मौजूद antioxidants भी आपके दर्द पर जल्दी असर करता है ।

क्यूंकि इसमें कोई हानिकारक उपादान मौजूद नहीं होती इसलिए ये आपके लिए बिलकुल सुरक्षित है । और इसका इस्तेमाल आप निश्चिंत होकर कर सकते है ।

Willow Bark –

willow bark एक तरह की पेड़ की छाल होती है । इसमें मौजुब दर्द निबारक उपादान आपके jodo ka dard को कम कर सकता है । ये aspirin जैसी दवाई की तरह ही काम करती है ।

willow bark

यह बुखार, muscle का दर्द या ghutno ka dard के लिए असरदार है । लेकिन इसका इस्तेमाल भी आपको दालचीनी की तरह ही सही मात्रा में करनी होगी । जिन ब्यक्ति को kidney की समस्या है वह इसका इस्तेमाल ना करे ।

क्यूंकि willow bark में salicin नाम के केमिकल उपादान kidney के समस्या वाले ब्यक्ति के लिए हानिकारक है ।

तो ये था आपके लिए jodo ke dard ke nuskhe जो बिलकुल आसानी से मिल सकते है । इसका सही तरीके से इस्तेमाल करे और jodo ka dard से रहत पायें ।

पर ज्यादा दर्द होने पर अपने डॉक्टर की सलाह जरुर ले । इन घरेलु नुस्के को अजमाए और दर्द मुक्त होकर स्वस्थ रहे ।

Image License : pexels.compixabay.com under Creative Commons License

About the author

Dr. Oishi Roy

Dr. Oishi Roy

Hey, this is Dr. Oishi Roy a general physician. My main concern is to Make people aware of their health issues. and I also, try to provide them with helpful and easy remedies. My focus is to make a healthy and disease-free society.

Leave a Comment