ओवुलेशन क्या है, अंडोत्सर्ग कितने दिन तक रहता है

Ovulation (अन्डोस्तर्ग) क्या होता है? जब महिलाओं के अंडाशय से डिंबाणु परिपक्व होकर निकलते है उसे ovulation काहा जाता है। ovulation हर महीने आपका अगला period शुरू होने के लगभग १४ दिन पहले होता है। और ये समय किसी भी महिला के लिए गर्भधारण करने का सही समय होता है।

महिलाओं के शारीर में मौजूद hormone के कारन ovulation होता है। ovulation होने में कुछ hormones जैसे luteinizing hormone ( LH), progesterone और estrogen का काफी महेत्व होता है। तो आईये जान लेते है ovulation होने में इन hormones का क्या भूमिका है ?

ovulation kitne din tak rahta hai

ओवुलेशन क्या है, अंडोत्सर्ग कितने दिन तक रहता है

Oestrogen in Hindi

महिलाओं के शारीर में मौजूद oestrogen नामक hormone किसी भी लड़की को बड़ते उम्र के साथ उसके स्तनों को बढाने में मदद करते है। और period को भी नियंत्रण करते है।

Progesterone in Hindi

गर्भधारण करने के समय महिलाओं के शारीर में मौजूद progesterone नामक hormone का काफी महेत्व होता है।

progesterone के मौजूद होने के कारन महिलाओं के गर्भाशय का स्तर मोटा हो जाता है। इस कारन गर्भधारण करने में आसानी होती है।

Luteinizing Hormone in Hindi

LH नामक hormone period को नियंत्रण में रखते है, साथ ही ovulation को समय पर होने में मदद करते है।

Period और ovulation में अंतर क्या है ?

Period और ovulation दोनों ही महिलाओं को गर्वधारण करने में सहायेता करते है। बस अंतर ये है की ovulation का समय महिलाओं के गर्वधारण करने का सबसे अच्छा समय होता है।

Pregnancy test at home in Hindi

और अगर ovulation के समय शारीरिक संबध ना बने तो ये दिम्बानु नष्ट हो जाते है, और period के रूप में निकाल जाते है।

पर period होना ये भी संकेत देता है की लगभग १४ दिन बाद आपको फिर से ovulation होगा और गर्वधारण करने का मौका फिर से मिलेगा।

क्या Ovulation के बिना भी Period की तरह खून निकल सकता है ?

कोई कोई महिलाओं को ovulation के बिना भी पीरियड की तरह खून निकल सकता है। अगर किसी महिला को एक महीने ovulation ना हो तो उसे anovulatory cycle काहा जाता है।

पर बिना ovulation का period स्वाभाविक period की तरह नहीं होता। आप इसे पढ़ सकते हैं: Period After Miscarriage Hindi: गर्भपात के बाद पीरियड कब आता है

Ovulation Kitne Din Tak Rahta Hai ? और उसे जानने के तरीके।

सबसे पहले आपके period शुरू होने के दिन से अगले महीने period शुरू होने के पहले दिन तक गिनती कर ले।

इसका मतलब हर महीने आपका period कम से कम २४ से ३४ दिनों के बीच होना चाहियें। आपका period जितने दिनों के अंतर में हो उससे १४ को घटा ले।

जो परिणाम आएगा उस हिसाब से period के शुरुआत के दिन से गिनती करके अपने calendar में निशान लगा ले। उसी तारीख के एक दो दिन आगे पीछे आपका ovulation होने वाला है।

आप बाजार में मिलने वाले ovulation kit के इस्तेमाल से भी अपना ovulation होने का तारीख पता कर सकते है।

गर्भधारण करने के लिए ovulation के तारीख के २ दिन पहले से और ovulation के तारीख के २ दिन बाद तक शारीरिक सम्बन्ध बनाना फायदेमन हो सकता है। इससे आपकी गर्भधारण करने का मौका बनी रहती है।

तो ये था आपके लिए कुछ जरुरी ovulation symptoms in hindi। महिलाओं को pregnant होने लिए ovulation का बहुत महेत्व होता है।

पर ovulation होने पर भी ये जरुरी नहीं होता की आप एक ही महीने में गर्भधारण कर ले। अगर लगातार कोशिश के बाद भी आप गर्भधारण ना कर पायें तो ऐसे में किसी अच्छे Gynecologists ( महिलाओं का डॉक्टर ) की सलाह जरुर ले।

Image License : pexels.compixabay.com under Creative Commons License

About Dr. Oishi Roy

Dr. Oishi Roy
Hey, this is Dr. Oishi Roy a general physician. My main concern is to Make people aware of their health issues. and I also, try to provide them with helpful and easy remedies. My focus is to make a healthy and disease-free society.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

garbhavastha me kya khana chahiye

गर्भावस्था के दौरान क्या खाना चाहिए: Pregnancy Diet in Hindi

Pregnancy Me Kya Khana Chahiye: गर्भावस्था का समय हर महिला के लिए बहुत ख़ास होता ...

Travel during Pregnancy In Hindi

प्रेगनेंसी में ट्रेवल : गर्भावस्था के दौरान सुरक्षित यात्रा कैसे करे

Travel during Pregnancy In Hindi: गर्भावस्था के दौरान यात्रा करने पर थकान महसूस हो सकता ...