Piliya को खत्म करने का 7 रामबाण घरेलू उपचार | Jaundice Treatment in Hindi

अगर आपका शारीर और आँखों के सफ़ेद हिस्सा पीला पड़ जाएँ तो यक़ीनन आपको piliya हो गया है। हालाँकि jaundice ज्यादा तर बच्चो को होता है पर के बडो को भी हो सकता है।

आपके शारीर के खून की मात्र में बिलुरुबिं का मात्रा बड जाने के कारन आपका शारीर पीला पड़ जाता है।

आप सोंचते होंगे (jaundice) piliya ka gharelu upchar क्या है ? उसके लिए निचे दिए गए article को ध्यान से पड़े।

Jaundice क्या है ?

आपके शरीर और आँखों के सफ़ेद हिस्से का पीला पड़ने को ही medical भाषा में jaundice काहा जाता है। इसके होने पर आप जरुर बीमार महसूस कर सकते है।

जब आपके खून में बिलुरुबिं का मात्रा 2.5 -3mg/dl पार कर जाते है तभी आपका शारीर पीला पड़ने लग जाता है।

jaundice ka ilaj

किसी बड़े ब्यक्ति के लिए piliya कभी कभी एक जान लेवा बीमारी साबित हो सकती है , जिसका तुरंत इलाज होना चाहिए।

पर बच्चो में इसका परिमाण कम होता है। और बिना कोई side effects के ठीक हो जाता है।

पर कभी कभी jaundice की मात्रा बड जाने के कारन बच्चो में brain की खराबी हो सकता है , या मौत भी हो सकता है।

निचे दिए गए कुछ piliya ke lakshan से आपको पता चल सकता है की आपको jaundice है

Piliya(Jaundice) ke lakshan

  • मल का रंग फीका पढ़ना
  • मूत्र का रंग गाडा होना
  • शरीर में खुजली होना
  • उलटी होना piliya ke lakshan होती है
  • मल द्वार से खून बहना
  • पेट ख़राब होना (diarrhea )
  • ठंडा लगना jaundice ke lakshan हो सकते है
  • बुखार आना
  • हजम करने की छमता कम होना
  • कमजोरी लगना
  • वजन का घटना भी piliya ke lakshan होते है
  • पेट या सर में दर्द होना
  • पेट या पांव फुल जाना।

Piliya ka gharelu upchar और सबसे बेहतर ilaj

तुलसी के पत्ते के इस्तेमाल से jaundice ka ayurvedic ilaj

१० से १२ तुलसी के पत्ते को चबाकर खाएं। और अगर आपको इसका स्वाद ज्यादा ही कड़ा लगे तो आप इसे पीसकर इसका रस निकलकर भी पी सकते है।

तुलसी (Basil)

इसे आप हर रोज दिन में ३ बार पियें। तुलसी के पेड़ में मौजूद hepatoprotective उपादान आपके liver और piliya को ठीक करने के लिए बहुत ही बेहतर और लाभ दायक माना जाता है।

गन्ने का रस से piliya ka gharelu upchar

हर रोज सुबह ,शाम दो बार गन्ने का रस जरुर पियें जब तक न आप पूरी तरह से ठीक हो जाये। क्यूंकि गन्ने का रस आपके liver को स्वस्थ रखता है , इस कारन ये jaundice से आपको जल्द छुटकारा दे सकता है। liver स्वस्थ रहने से आपके शारीर में bilirubin की मात्रा भी नहीं बढती।

बखरी का दूध

हर रोज एक कप बखरी का दूध पिए। बखरी के दूध में कही तरह के जरुरी पोषण तत्व मौजूद होते है जो बच्चो और बडो दोने के लिए ही बहुत लाभ दायक होता है।

बखरी के दूध में मौजूद antibodies, piliya को ठीक करने का अच्छा जरिया माना जाता है।

सूरज की रौशनी से piliya ka upchar

बच्चो में jaundice से छुटकारा पाने का सबसे बेहतर तरीका है phototherapy। phototherapy में आप एक मशीन के द्वारा सूरज की रौशनी की तरह ही रौशनी प्राप्त कर सकते है।

पर माना जाता है की phototherapy से बेहतर direct सूरज की रौशनी होती है, जो आपके खून मे से bilurubin की मात्रा को खत्म करते है।

निम्बू का रस से piliya ka gharelu upchar

एक आधे निम्बू का रस को एक गिलास पानी के साथ मिलाये। उसमे थोरा शहेद मिलाकर पी जाएँ। इसे आप हर रोज ३ से ४ बार पी सकते है।

nimbu

निम्बू के रस में मौजूद antioxidants आपके liver को स्वस्थ रखता है और इसे jaundice के कारन बर्बाद होने से बचाता है।

Barley

एक चम्मच भुने हुए barley के पाउडर को एक गिलास पानी के साथ मिलाएं। उसमे थोरा सा शहेद डाले और पी जाएँ। इसे आप हर रोज पी सकते है।

Barley में मौजूद antioxidants आपके शारीर से toxins और बिलुरुबिं को मूत्र द्वारा निकाल फेंकता है। इसलिए यह jaundice ठीक करने का एक बहुत ही आसान और बेहतर तरिका है।

पपीता

डंडे से जुड़े पपीते के पत्तो को पिस कर एक मिश्रण बना ले।इसे छान कर रस निकाल ले। आधे चम्मच इस मिश्रण के साथ एक चम्मच शहेद मिलाये और पी जाएँ।

papita

आपको इसे हर रोज दिन में २ से ३ बार पीना होगा। पपीते के पत्तो में papain और chymopapain नाम के उपादान मौजूद होते है।

यह उपादान आपके हजम शक्ति को बढाता है ,और liver की बीमारी जैसे jaundice से छुटकारा देता है।

किस तरह के भोजन ना खाएं

चीनी , मांस, दूध से बने खाना, और नमक। piliya में इन सारे चीजो से जरुर दूर रहे। क्यूंकि यह सारे चीजे जल्दी हजम नहीं होती, और आपके शारीर के हालत को और जयादा बदतर बना सकते है।

तो jaundice से जल्द ठीक होने के लिए ये सारे खाद्य पदार्थो से आपको दूर रहना होगा।

Jaundice को रोकने के उपाय

  • सही वजन का होना
  • Alcohol या शराब से दूर रहना
  • अपने शारीर में cholesterol की मात्रा का नियंत्रण रखना
  • साफ़ सूत्र रहना
  • साफ़ पानी पीना और साफ़ ,स्वस्थ भोजन करना।

तो ये था piliya ka gharelu upchar। इन्हें अजमाकर आप piliya से जल्दी ठीक हो सकते है, और jaundice को होने से रोक भी सकते है।

Jaundice ka ayurvedic ilaj

पर याद रखे हर बीमारी की तरह ही jaundice का भी इलाज तुरंत करनी चाहिए। क्यूंकि सही वक़्त पर इलाज ना होने पर ये और खतरनाक साबित हो सकता है।

तो jaundice होने पर doctor की सलाह जरुर ले और इन घरेलु तरीके को भी जरुर अजमाए। आपको यह पोस्ट कैसा लगा ? जरुर comment करके बाताएं।

Image License : pexels.compixabay.com and commons.wikimedia.org under Creative Commons License

About Dr. Oishi Roy

Dr. Oishi Roy
Hey, this is Dr. Oishi Roy a general physician. My main concern is to Make people aware of their health issues. and I also, try to provide them with helpful and easy remedies. My focus is to make a healthy and disease-free society.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

Eyebrow Growth Tips at Home Hindi

आइब्रो को काला और घना करने का 10 आसान घरेलू उपाय

Eyebrow Hair Growth Tips In Hindi: आपका eyebrows ही आपके चेहरे की सुन्दरता को बढाता ...

Alopecia Ka Desi Ilaj in Hindi

ऐलोपेशीया ऐरेटा (कीड़ा लगना) का देसी इलज और घरेलु उपचार

Alopecia Ka Desi Ilaj in Hindi: एलोपेसिया एक ऐसी समस्या है जिसमे आपके सर के बाल ...