प्रेगनेंसी के दौरान हीमोग्लोबिन बढ़ाने के 7 घरेलू उपाय

Pregnancy Me Hemoglobin Kaise Badhaye: गर्वाव्स्थ्या के दौरान खून में haemoglobin की मात्रा का बड़ना अवश्यक होता है। ९ महीनो के गर्वाव्स्थ्या के दौरान महिलाओं के शारीर में काफी सारे बदलाओं होते है जो बच्चे की growth के लिए जरुरी होता है।

गर्ववती महिला को ये ध्यान में रखना चाहिए की उसके गर्व में पल रहे बच्चे को सही पोषण मिले। इस समय गर्ववती महिलाओं के शारीर में मौजूद खून की मात्रा भी ४० से ५० % तक बड जाता है।

तो शारीर में haemoglobin की मात्रा को बढाये रखने के लिए गर्ववती महिलाओं को folic acid और ज्यादा iron वाला खाना खाने की जरुरत पड़ती है। पर किसी किसी गर्ववती महिलाओं के शारीर में haemoglobin की मात्रा बहुत कम हो जाती है।

pregnancy me hemoglobin kaise badhaye

आज हम आपको बातायेंगे गर्वाव्स्थ्या के दौरान अपने खून में normal hemoglobin kaise badhaye।

Pregnancy Me Hemoglobin Badhane Ka Tarika

अगर गर्वाव्स्थ्या के दौरान किसी महिला के खून में haemoglobin की मात्रा बहुत ज्यादा कम हो तो उसे doctor की सलाह पर दवाई और injection लेनी पड़ सकती है।

पर अगर haemoglobin की मात्रा बहुत ज्यादा कम ना हो तो खाने में कुछ बदलाओं करने से ही इस समस्या से छुटकारा मिल सकती है।

तो आईये जान लेते है की गर्वाव्स्थ्या के दौरान कौन सा खाने से खून में haemoglobin की मात्रा बड सकती है। गर्ववती महिलाओं को ऐसी चीजे खाने की जरुरत होती जिसमे vitamin c, vitamin b, folic acid, और iron की मात्रा ज्यादा हो।

हरे पत्ते वाले सब्जियां – Green Vegetables Se Hemoglobin Badhane Ke Upay

VEGETABLE

हरे पत्ते वाले सब्जिओं में iron की मात्रा ज्यादा होती है। इन सब्जियों को खाने से शारीर को कही सारे vitamins भी प्राप्त होती है। जो की गर्ववती महिलाओं के लिए बहुत ही फायदेमन होता है।यह भी पढ़ें: Kaise Pata Lagaye Ki Garbh Me Ladka Hai Ya Ladki

मसूर दाल – Hemoglobin Badhane Ke Liya Lentil Ka Hona Jaruri Hai

दाल में अधिक मात्रा में iron मौजूद होने के साथ साथ protein की मात्रा भी बहुत ज्यादा होती है। दाल में मौजूद कई और पोषण तत्व जैसे vitamin, mineral, fibre गर्ववती महिलाओं के लिए आवश्यक होता है। इसलिए गर्ववती महिलाओं के खाने में दाल का होना जरुरी होता है।

Dry Fruits –  Pregnancy Me Hemoglobin Badhane Ka Tarika Hai Dry Fruits

गर्वाव्स्थ्या के दौरान खून में haemoglobin की मात्रा को बढाने के लिए dry fruits खाना अच्छा होता है। खजूर खाने से गर्ववती महिला के शारीर में haemoglobin की मात्रा बड जाती है।

Dry Fruits

साथ ही कई और dry fruits जैसे अखरोट , किसमिस, और almond खाना भी फायदेमन होता है। यह भी पढ़ें: Unwanted 72 Tablet के ये Side Effects अधिकतर लोग नही जानते

ताजे फल – Fresh Fruit Se Pregnancy Me Hemoglobin Badhane Ka Tarika

गर्वाव्स्थ्या के दौरान अनार और संतरे जैसे फल खाना अच्छा होता है। अनार में iron की मात्रा ज्यादा होने के कारण इसे खाने से haemoglobin को मात्रा बड जाते है।

pregnancy me hemoglobin kaise badhaye

और संतरे में vitamin c की मात्रा ज्यादा होता है जो की गर्ववती महिलाओं के रोग प्रतिरोध छमता को बढ़ाते है।

इसके अलावा भी अंगूर, अमरुद या peach जैसे फल भी खाया जा सकता है। यह भी पढ़ें: Pregnancy Mein Aisa Kya Khaye Jisse Bacha Gora Aur Sundar Ho

फोलिक एसिड युक्त सब्जियाँ – Folic Acid Containing Vegetables In Hindi

Folic Acid Containing Vegetables In Hindi

Folic acid मौजूद होने के कारण गर्ववती महिलाओं के खून में haemoglobin की मात्रा बड जाते है। केला, मकई, beet, छोले, भिन्डी, avacado जैसे सब्जिओं में folic acid की मात्रा ज्यादा होती है जो की गर्ववती महिलाओं के लिए जरुरी होता है।

अभ्यास – Excercises Se Garbhavastha Me Hemoglobin Kaise Badhaye

गर्वाव्स्थ्या के दौरान excercise करने से शारीर में haemoglobin की मात्रा को प्राकृतिक तरीके से बढाया जा सकता है। इसलिए गर्वाव्स्थ्या के दौरान हल्की excercises किया जा सकता है।

streching को excercises

पर ध्यान रखे कोई थका देने वाला या भारी excercises ना करे। शारीर में haemoglobin की मात्रा को बढाने के लिए आप प्राणायाम भी कर सकते है। यह भी पढ़ें: Pregnancy Ke Dauran Kaise Sona Chahiye in Hindi

कम हीमोग्लोबिन भोजन – Avoid Low Hemoglobin Food In Hindi

गर्वाव्स्थ्या के दौरान ऐसे खाने से दूर रहे जिससे आपके शारीर में haemoglobin की मात्रा घट सकती है। जैसे अधिक मात्रा में चाय, coffee, कोई भी soft drinks या शराब ना पीये।

तो ये था गर्वाव्स्थ्या के दौरान शारीर में Hmoglobin Badhane Ke Upay और प्राकृतिक तरीके। गर्ववती महिलाओं के शारीर में haemoglobin की मात्रा जितना ज्यादा होगा उतना ही oxygen की मात्रा भी बड जाएगा।

जो की बच्चे की growth के लिए बहुत महेत्पूर्ण होता है। गर्वाव्स्थ्या के दौरान खून में haemoglobin की मात्रा कम होने के कारन थकान, कमजोरी, या Anemia जैसे समस्याएं हो सकते है।

इसलिए गर्वाव्स्थ्या के दौरान शारीर में haemoglobin की मात्रा हमेशा ज्यादा होना चाहिए। सही जांच के लिए जरुरत पड़ने पर Doctor की सलाह जरुर ले।

Image License : pexels.compixabay.com under Creative Commons License

About Dr. Oishi Roy

Dr. Oishi Roy
Hey, this is Dr. Oishi Roy a general physician. My main concern is to Make people aware of their health issues. and I also, try to provide them with helpful and easy remedies. My focus is to make a healthy and disease-free society.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

ladkiya jaldi pregnant kaise hote hai

Pregnant Kaise Hote Hai: लड़किया प्रेग्नेंट कैसे होते है और क्या करना चाहिए

Ladki Pregnant Kaise Hote Hai in Hindi Language: शादी के बाद बच्चे की चाह सबको ...

garbhavastha me kya khana chahiye

गर्भावस्था के दौरान क्या खाना चाहिए: Pregnancy Diet in Hindi

Pregnancy Me Kya Khana Chahiye: गर्भावस्था का समय हर महिला के लिए बहुत ख़ास होता ...