Pregnancy test at home in Hindi | गर्भावस्था का परीक्षण कैसे करे

कई बार देखा गया है की महिलाओ को अपनी गर्भावस्था के बारे में शुरुआत के दिनों में खबर नहीं होती। इस कारन गर्भावस्था के दौरान लिए गए साबधानिओ को वे अपना नहीं पाते  है। और गर्भावस्था के दौरान जिन पोषण की ज़रूरत होती है उन्हें भी सही वक़्त पर ले नहीं पाते। इस लिए गर्भावस्था की तुरंत जाँच की बहुत ज़रूरत है। और इसका जाँच हम घर पर ही (pregnancy test at home) शुरुआत के महीनो में आसानी से कर सकते है।

आप घर पर आसानी से गर्भावस्था का परीक्षण (pregnancy test) कर सकते हैं । घर पर गर्भावस्था जांच के लिए (for pregnancy test at home) कई प्रकार की गर्भावस्था जांच किट (pregnancy test kit) मिलती हैं, जिससे आप प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकती हैं। तो आज की पोस्ट में बताते हैं कि घर पर pregnancy test कैसे करें?

Pregnancy test at home in Hindi

कैसे करे घर पर गर्भावस्था का परीक्षण (Use pregnancy test kit at home)

गर्भावस्था परीक्षण या प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए मुत्र (पेशाब) का सैंपल लिया जाता है। इसमें पेशाब में मौजूद HCG (ह्यूमन कोरियोनिक गोनाडोट्रोपिन ) हार्मोन का पता लगाया जाता है, जिसके होने का मतलब है कि आप गर्भवती हैं।

सबसे पहले साफ मुत्र (यूरिन) की कुछ बूंदे परीक्षण स्ट्रिप पर टपकाए, थोडी देर बाद यदि एक लाईन आती है तो आप गर्भवती नही है और यदि दो लाईन आती है तो आप गर्भवती है।

घर पर गर्भावस्था का परीक्षण का उचित समय (Right time for pregnancy test at Home)

प्रेग्नेंसी टेस्ट हमेशा सुबह उठने के बाद करें, क्योंकि सुबह-सुबह यूरीन में अन्य तरल पदार्थ मौजूद नहीं होते हैं और HCG हार्मोन का स्तर ज्यादा होता है। इससे परिणाम के गलत आने की संभावना कम होती है।

pregnancy test at home

गर्भावस्था का परीक्षण परिणाम नकारात्मक हो तो क्या करे (What to do when pregnancy test result are negative at home)-

जल्दबाजी में गर्भावस्था परीक्षण करने से परिणाम नेगेटिव आ जाता है।ऐसे में आप दोबारा 72 घंटे के बाद फिर परीक्षण कीजिए।कभी-कभी गर्भावस्था जांच किट भी सही परिणाम नहीं दे पाते है जिससे गलत परिणाम निकल सकते हैं।

गर्भावस्था का परीक्षण करते समय सावधानी (Precautions at the time of pregnancy test at home)

1- गर्भवती होने के लगभग दस दिन बाद गर्भावस्था परीक्षण करने से परिणाम सटीक होता हैं।

2- प्रेग्नेंसी टेस्ट हमेशा सुबह उठने के बाद करें।

3- टेस्ट पॉजीटिव आये तो अपने डॉक्टर से जरूर परामर्श लें।

4- टेस्ट निगेटिव आने के बाद 72 घंटे बाद दोबारा जांच करें।

5- यदि मासिक धर्म नहीं हुआ और जांच में परिणाम नकारात्मक आते हैं, तो स्त्री रोग विशेषज्ञ से सलाह ले ।

6- परिणाम सकारात्मक आता है तो भी उसकी पुष्टि के लिए स्त्री रोग विशेषज्ञ से सलाह ले।

Read also: Khali Pet shahad aur lahsun khane ke fayde

गर्भावस्था परीक्षण जांच के फायदे (Advantage of pregnancy test at home)

Use pregnancy test kit at home

गर्भावस्था परीक्षण किट का प्रयोग करके आप घर पर ही गर्भावस्था की पुष्टि कर सकती हैं। इसका प्रयोग करके आप डॉक्टर या अस्पताल तक जाने से भी बच जाते हैं।और आसानी से मानसिक  और शारीरिक रूप से अपने आप को तैयार कर सकते है ।तो सही समय पे सही प्रेगनेंसी किट चुन कर ,अपने घर पर  ही प्रेगनेंसी टेस्ट करे।

Image License : pexels.com, pixabay.com and commons.wikimedia.org under Creative Commons License

About Dr. Oishi Roy

Dr. Oishi Roy
Hey, this is Dr. Oishi Roy a general physician. My main concern is to Make people aware of their health issues. and I also, try to provide them with helpful and easy remedies. My focus is to make a healthy and disease-free society.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

purani sukhi khansi ka ilaj hindi

रात में सूखी खांसी से तुरंत राहत पाने के सबसे पावरफुल इलाज

खासी एक बहुत ही आम समस्या है पर इसमें खांसी होने वाले ब्यक्ति को बहुत ...

bhukh badhane ke upay

भूख बढ़ाने के लिए कारगर हैं ये 5 आयुर्वेदिक उपाय

Bhukh Badhane Ke Upay : आप क्या खाते है उसका असर हमेशा आपके चेहरे पर ...