Rudraksha पहन रखा है तो जान लें इसके Niyam, Vidhi और Fayde

जो ब्यक्ति जीवन में अपने बुरी आदतों से निकलकर एक सादगी भरी जिंदगी जीना चाहते हो उनके लिए rudraksha dharan करना बहुत शुभ और फायदेमन हो सकता है।

रुद्राक्ष को धारण करने के बाद उस ब्यक्ति को तुरंत अपने जिंदगी बदलाओं नजर आने लगेगा। और यह बदलाओं कही इंसानों के जीवन में देखा गया है।

Rudraksha पहन रखा है तो जान लें इसके Niyam, Vidhi और Fayde

Rudraksha की शक्ति किसी भी तरह के पत्थर, तंत्र , मंत्र से कही अधिक होता है। रुद्राक्ष धारण करना या पूजा करने वाले ब्यक्ति को जीवन में सुख शांति, अच्छा स्वस्थ और उन्नति प्राप्त होती है।

1 Se 7 Mukhi Rudraksha Dharan vidhi aur Niyam

Rudraksha dharan करने वाले ब्यक्ति को कुछ vidhi का पालन जरुर करना चाहियें। रुद्राक्ष धारण करने का सूफल आपको भी प्राप्त हो सकता है

अगर आप इन vidhio को मान कर Rudraksha का धारण करे –

Rudraksha Dharan vidhi

1. Rudraksha dharan vidhi se सिद्धि करण

सिद्धि करण ( पूजा पाठ, मंत्र या हवन ) करने के बाद ही रुद्राक्ष धारण किया जाना चाहियें। इसे कोई भी अच्छा मुहरत पर सोमबार या गुरुबार के दिन पहेना जा सकता है।

2. मांसाहारी भोजन ना करे

Rudraksha dharan करने वाले ब्यक्ति को non vegeterian भोजन नहीं करना चाहियें या शराब नहीं पीनी चाहियें। rudraksha dharan vidhi अनुसार उस ब्यक्ति को हमेशा सच बोलना चाहियें और भगवान् शिव के मंदिर जा कर आशीर्वाद लेनी चाहियें।

3. किस जगह रुद्राक्ष धारण ना करे

रुद्राक्ष का धारण करके शमशान घाट या कोई भी funerals में नही जाना चाहियें। ऐसे घर में भी Rudraksha धारण करके नहीं जाना है जहाँ कोई बच्चे का जन्म हुआ हो।

4. Sex ना करे

Sex करने के दौरान कभी भी रुद्राक्ष धारण करके नहीं रहना चाहियें। महिलाओं को माहवारी के दौरान Rudraksha dharan करके नहीं रहना चाहियें।

5. Rudraksha dharan vidhi ke मंत्र

रुद्राक्ष dharan करने वाले ब्यक्ति को हर रोज 9 बार रुद्राक्ष मंत्र जरुर पदनी चाहियें। एक बार सुबह नाहाने के बाद और एक बार रात को सोने से पहले। Rudraksha को रात को सोने से पहले जरुर उतारे और पूजा के जगह रख दे।

6. रुद्राक्ष को साफ़ रखे

हमेशा रुद्राक्ष को साफ़ रखे। और साफ़ करने के बाद गंगा जल छिड़क कर ही Rudraksha को दोबारा पहने। अगर रुद्राक्ष का धागा गंदा हो जाएँ तो उसे जरुर बदले। इससे Rudraksha की पबित्रता अखंड रहता है।

rudraksha-dharan-karne-ke-vidhi-niyam-benefits-hindi

7. Rudraksha Dharan Vidhi

रुद्राक्ष को सुबह नहाने के बाद धारण किया जाता है। dharan करने से पहले मंत्र का पाठ जरुर करे और रुद्राक्ष को अगरबत्ती और दिया जलाकर पूजा करे। नहाने से पहले रुद्राक्ष को बिलकुल ना छुए। और Rudraksha dharan करके bathroom जाने पर अपने हाथ पांव अच्छे से धोएं।

8. रुद्राक्ष की आकार

किसी किसी ब्यक्ति के मन में Rudraksha की आकार को लेकर थोरा हीच खिचावट हो सकता है, पर ये कोई चिंता का विषय नहीं है।

बस रुद्राक्ष लेते समय यह देख ले उसका मुख का गठन सही है और वो फटा हुआ नहीं है। रुद्राक्ष को हाथ में लेकर ही उसके पबित्रता का एहसास हो जाता है।

9. तेल जरुर लगायें

रुद्राक्ष को साफ़ करने के बाद उस पर तेल जरुर लगायें और अगरबत्ती दिखा कर पूजा करे। अगर आप Rudraksha को किसी कारण कुछ समय के लिए dharan नही कर पा रहे है तो rudraksha dharan vidhi अनुसार यह नियम करना अनिबार्य है।

10. किन ब्यक्ति को रुद्राक्ष धारण नहीं करना है

रुद्राक्ष का dharan शारीर में गर्माहट पेदा कर सकता है। इस कारण कोई कोई ब्यक्ति को allergy भी हो सकता है। तो उनके लिए येही अच्छा है की वो Rudraksha को अपने शारीर पर धारण ना करे और रुद्र्क्ष को पूजा के जगह रख कर हर रोज पूजा करे।

तो ये था आप के लिए Rudraksha dharan करने के कुछ विदि। इन्हें मानकर ही रुद्र्काश का धारण करे तो परिणाम जल्द से जल्द प्राप्त होगी। और भगवान् शिव के आशीर्वाद से आपके जीवन की हर समस्या खत्म हो जायेंगे।

About Dr. Oishi Roy

Dr. Oishi Roy
Hey, this is Dr. Oishi Roy a general physician. My main concern is to Make people aware of their health issues. and I also, try to provide them with helpful and easy remedies. My focus is to make a healthy and disease-free society.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*